आंगनबाड़ी सेविका चयन पर उठाए गए सवाल एक माह से अधिक होने को चली अबतक कोई कार्रवाई नही हुई

0
380

जल्द से जल्द उचित कार्रवाई करने की मांग

बिष्णुगढ़:बिष्णुगढ़ प्रखंड के अंतर्गत गाल्होवार पंचायत के टण्डवा निवासी रूवेदा खातुन पति स्व० मो अबरार ने हजारीबाग उपायुक्त,प्रखंड विकास पदाधिकारी को एक आवेदन देकर आंगनबाड़ी सेविका पद पर चयनित संविदा खातून पति हाफिज शमीम अख्तर की शैक्षणिक प्रमाण-पत्र में जन्म तिथि में फेर बदल करने का आरोप लगाया है। रुबेदा खातून ने अपने आवेदन में कहा है कि मै एक विधवा महिला हूं, मेरे तीन बच्चे हैं जिसमें दो लड़की तथा एक लड़का है। बच्चों के पालण – पोषण में बहुत परेषानी हो रही है। 17 जून 2023 को गाल्होबार पंचायत के टंडवा टोला में सीडीपीओ ने आंगनबाड़ी सेविका का चयन के लिये आमसभा का आयोजन करवाया था. जिसमें संजिदा खातून पती हाफिज शमीम अख्तर टण्डवा के है जो चयनित हुआ है। संजिदा खातून बिहार परीक्षा बोर्ड व मदरसा बोर्ड से उत्तीर्ण हुई है, दोनों प्रमाण-पत्रों में जन्म तिथि अलग- अगल है। तथा चयनित संजिदा खातून पहले से ही सहिया पद में कार्यरत है. और उसके चार बच्चे है, जिसमें से एक 22 वर्ष (विवाहित) पुत्र, दुसरा पुत्र 20 वर्ष का है, तीसरा 18 वर्ष तथा चौथा पुत्री 16 वर्ष की है। वर्ष 2010 के मतदाता सूची के अनुसार संजिदा खातुन का उम्र 27 वर्ष है। इसके अनुसार उम्र जोड़ने पर आजतक 40 वर्ष हो जाता है। दोनों प्रमाण पत्र एवं मेडिकल जाँच किया जा जाए. साथ ही इस मामले को लेकर संजिदा खातुन का चयन पूरी तरह शाजिश वो गड़बडी का आधार बना है। इस मामले को लेकर विभाग पदाधिकारियों के पास 17 जून को आवेदन दी गई थी जिससे आज तक एक महिना से अधिक होनो को चला किसी भी प्रकार की जांच पड़ताल व कार्रवाई नहीं हुई है. इससे जल्द से जल्द जांच कर कर उचित कार्रवाई करने की मांग की है ||

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here