तीन दिवसीय रामराज मेले मूर्ति विसर्जन के साथ समापन

0
182

 

बिष्णुगढ़: बिष्णुगढ़ प्रखंड अंतर्गत ग्राम चौथा में आयोजित तीन दिवसीय रामराज मेले का समापन मूर्ति विसर्जन एवं जय श्री राम के जयकारे के साथ समापन हो गया| भगवान श्री राम जी का चैत्र मास के पूर्णिमा के दिन जब राज्याभिषेक हुवा उस समय जो भव्य माहौल बना था उसी की याद में सन 1952 ई. से चौथा में

रामराज पुजनोत्सव एवं मेले का आयोजन किया जा रहा है| इस अवसर पर भगवन श्री राम, सीता, लक्षण, भारत शत्रुधन के साथ गुरु वशिष्ठ एवं हनुमान जी की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना की जाती है| स्थानीय निवासी प्रोफेसर विजय कुमार मिश्रा के अनुसार उसी समय क्षेत्र में चेचक महामारी व्यापक पैमाने पर फैली हुई थी जिससे बचने के लिए पूजा का आयोजन किया गाया था| जिस परम्परा का निर्वाहन आज भी चौथा के लोग कर रहे हैं|

शुरुआत मे बगोदर,बिष्णुगड़ एवं आस पास के लोग ही इस मेले में शमिल होते थे समय के साथ-साथ चौथा राम राज्य मेले का दायरा बढ़ता गाया,वर्तमान समय में हजारीबाग, गिरीडीह एवं बोकारो जिले से हजारों कि संख्या में श्रद्धालु लोग शामिल होते हैं||

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here