विद्यालय के छात्र-छात्राएं एवं रसोइयो को पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है,एक किलोमीटर दूर से पानी लाने को मजबूर,

0
72

बिष्णुगढ़: बिष्णुगढ़ प्रखंड के बकसपुरा पंचायत के टोला रखवा में नवसृजित प्राथमिक विद्यालय रखवा में विद्यालय के छात्र-छात्राएं एवं रसोइयो को पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। गौरतलब है कि स्कूल के चापानल चोरी होने से लगभग दो वर्ष बीतने चला है, लेकिन अभी तक इस पर कोई करवाई नही किया गया है।वही इस बारे में विद्यालय के प्रभारी हेमंती कुमारी ने कहा कि चापानल चोरी होने के दौरान हमने विष्णुगढ़ थाना एवं प्रखंड मुख्यालय (ब्लॉक) के पदाधिकारी को कई बार इसकी सूचना देकर आवेदन के माध्यम से अवगत कराया गया

लेकिन अभी तक किसी प्रकार का पहल हुआ।वही आजसू पार्टी के प्रखंड उपाध्यक्ष सह समाजसेवी दामोदर महतो को ये सूचना विद्यालय के प्रभारी व रसोइयो के द्वारा जानकारी दी गई उन्होंने विद्यालय पहुंचकर विद्यालय के प्रभारी हेमंती कुमारी, अध्यक्ष सविता देवी, रसोइया मोसामत जसवा और सोनिया देवी छात्र-छात्राएं से पूछ-ताछ करने पर बताया गया की दो वर्ष से हमलोगो को पानी के लिए भटकना पड़ रहा है।विद्यालय के सामने 300 मीटर दूरी में एक सरकारी चापानल है, जहां से रसोइया पानी लेने के लिए जाती थी उसे गाली गलौज कर पानी लेने पर मना कर दिया गया, घर के बगल लोगों का कहना है कि हम यहां से पानी नही ले जाने देंगे। मेरा घर के लिए पर्सनल है ये बात सुन कर फिलहाल रसोइया सब एक किलो मीटर दूर बिरहोर कालोनी से पानी लाने के लिए मजबूर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here