business of 100 crores in delhi a day before diwali 2022 crowd at vehicle showrooms Sadar Bazar Sarojini Nagar

0
468

[ad_1]

Diwali 2022: दिल्ली के बाजारों में रविवार को भी धनतेरस की खरीदारी का माहौल दिखा। लगातार दूसरे दिन कपड़े, ज्वेलरी, फर्नीचर, गिफ्ट, मिठाइयों के साथ ही वाहनों के दुकानों पर खासी भीड़ रही।सदर बाजार, सरोजिनी नगर, कमला नगर, महिपालपुर, कृष्णा नगर, लाजपत नगर जैसे प्रमुख बाजारों में ग्राहकों की भीड़ से रौनक थी। एनसीआर से भी बड़ी संख्या में लोग खरीदारी करने पहुंचे थे। व्यापारियों का मानना है कि दूसरे दिन भी बेहतर कारोबार हुआ।

कपड़े की भी खूब बिक्री हुई 

थोक मार्केट को छोड़ दिया जाए तो दिल्ली के फुटकर बाजार में रविवार को भी अच्छी खरीदारी हुई। चांदनी चौक, सरोजिनी नगर, कृष्णा नगर और कमला नगर में सुबह से ही खरीदारी के लिए लोग पहुंचने शुरू हो गए थे। चांदनी चौक के व्यापारी हरवेंद्र पाल टक्कर ने कहा कि पहले यहां थोक सामान लेने वाले आ रहे थे। लेकिन रविवार को थोक की खरीदारी नहीं थी, लेकिन रिटेल बाजारों में कपड़े की अच्छी खरीदारी हुई है।

सरोजिनी नगर, मिनी मार्केट ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक रंधावा ने कहा कि हमारे यहां अक्सर शनिवार और रविवार को बड़ी संख्या में ग्राहक पहुंचते हैं। उम्मीद कर रहे थे कि सोमवार को दीपावली है तो इस बार कम ग्राहक आएंगे लेकिन रविवार को इनकी अच्छी खासी संख्या थी। इसमें दिल्ली और आसपास के शहरों के ग्राहक अधिक थे।

वाहनों के शोरूम पर भीड़

रविवार को दिल्ली में ऑटोमोबाइल कंपनियों के शोरूम पर भी बड़ी संख्या में ग्राहक पहुंचे। एक निजी शोरूम के एमडी ने बताया कि धनतेरस की खरीदारी दो दिन होने की वजह से कई लोगों ने रविवार को भी नए वाहनों की डिलीवरी ली। रविवार को भी सभी श्रेणी के करीब दो हजार वाहनों की चाबी लोगों को सौंपी गई। जबकि, सामान्य दिनों में करीब 1700 वाहनों की बिक्री होती है।

बर्तन की दुकानों पर पैर रखने तक की जगह नहीं

बड़े से लेकर छोटे बाजारों में बर्तन की दुकानों पर भी खासी भीड़ नजर आई। सबसे अधिक भीड़ महिलाओं की थी। थाली, चम्मच से लेकर पूजा से संबंधित धूपदानी आदि की भी खरीदारी की जा रही थी।

मिठाई लेने को कतार

धनतेरस की खरीदारी भले ही सीमित मात्रा में हुई हो, लेकिन मिठाई, गिफ्ट और सजावट से जुड़ी दुकानों पर अच्छी संख्या में लोग पहुंचे। सदर बाजार, बंगाली मार्केट, लक्ष्मी नगर, रोहिणी समेत अन्य बाजारों में मिठाई की दुकानों पर भीड़ देखने को मिली।

कुर्ता-पजामा के कई डिजाइन उपलब्ध थे

दिल्ली हिंदुस्तानी मर्केंटाइल एसोसिएशन के महामंत्री श्रीभगवान बंसल का कहना है कि सबसे ज्यादा खरीदारी एथनिक ड्रेस की हुई। पुरुष कुर्ता-पजामा पहनना पसंद करते हैं जिसकी काफी रेंज उपलब्ध थी।

करीब सौ करोड़ के कारोबार का दावा

द बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के चेयरमैन योगेश सिंघल का कहना है कि दूसरे दिन भी अच्छा कारोबार हुआ। रविवार को भी करीब 100 करोड़ का कारोबार पूरे बाजार में माना जा सकता है।

 

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here